jio business strategy/ Plan Why jio is Cheap, facts about jio

Share:

दोस्तों 21वीं सदी के अन्दर मोबाइल डेटा ही सब के लिए ऑक्सीजन होने वाला है , मुकेश अंबानी ने इस चीज़ को जान लिया था। इस लिए मुकेश अंबानी
Growth Hacking Stratgy लै के आए जिस से सारी टेलीकॉम इंडस्ट्री को disturb कर दिया।
इस से पहले जो दूसरी टेलीकॉम कम्पनिया थी उन की 60 से 70 प्रतिशत कमाई वॉइस काल से आती थी और दूसरी साइड इन को अपना सिस्टम 2जी 3जी से upgrade करना था जिस के चलते सभी idea , Airtel , Vodafone के डाटा पैकेज इतने महँगे थे।  मगर मुकेश अंबानी ने सीधा 2.50 करोड़ रुपया लगाया और समन्दर में अपनी फाइवर ऑप्टिक केबल विशाई । इतना पैसा अबतक किसी वी कंपनी ने नहीं लगाया था। यह पैसा Airtel , Idea और Vodafone तीनो की investment से 3 गुणा ज्यादा था। 

jio business strategy/ Plan Why jio is Cheap, facts about jio

Bay Of Bengal Gateway:
Relince Jio ने बंगाल Bay of Bengal Gateway नई टेक्नोलॉजी के साथ Create किया। जिस में 8000 किलोमीटर लंबा Fiber Optic Cables का जाल विशाया । जो के पूरे यूरप , साउथ एशिया , मलेशिया, सिंगापूर के सभी सर्वर को इस केबल के माध्यम से जोड़ा गया। जहाँ दूसरी टेलीकॉम कम्पनियो ने अपने सिस्टम को अपग्रेड करने ने इतना पैसा खर्च कर दिया वही दूसरी तरफ जियो ने सीधे ही नई टेक्नोलॉजी के साथ इस केबल को विशाया , जिस से जियो को एक सेकंड में 40 TB की स्पीड मिली वही दूसरी कंपनीयो की यही स्पीड 4 TB पर सेकंड है । जिस से जियो की स्पीड 10 गुना ज्यादा है। जियो के पूरे भारत में 22 जोन हैं जिस में बिलकुल नई टेक्नोलॉजी इस्तमाल की गई है  , वही Airtel के 15 और Idea के पास 10 और Vodafone के पास 8 जोन हैं जिस में पूरानी टेक्नोलॉजी इस्तमाल की गई है जिस के कारण जियो की स्पीड इतनी ज्यादा है। 

Lost Leading Strategy : मुकेश अंबानी का सब से बड़ा प्लान Lost Leading Strategy था। किसी वी एटम को मार्किट के दाम से कम दाम में वेचना , उस को बोलते हैं Lost Leading Strategy । जैसे के पहले सभी कंपनिया हमे 200 रुपए में 1 gb डेटा देती थी  काल और Sms के पैसे अलग लगते थे , जियो ने सभ कुछ फ्री कर दिया वह वी 6 महीनो के लिए जिस के कारण लोग दूसरे नेटवर्क से निकल कर जियो में आने लगे ।
जियो का पहले ही प्लान था के वह आते ही सभ से पहले 80 प्रतिशत मार्कीट को कैप्चर करेगे । 80 प्रतिशत छोड़ो अगर जियो 50 प्रतिशत ग्राहकों को वी अपने साथ जोड़ लेती है तो , 105 करोड़ यूजर हैं भारत में उस का 50प्रतिशत हो गया 50 करोड़ अगर जियो हर एक ग्राहक से 200 रुपए पर महीने के हिसाब से पैसे वसूलता है तो जियो का एक महीने का टर्नओवर हो गया 10000 करोड़ और एक साल का हो गया 1.25 लाख करोड़ जो के आजतक इतिहास में किसी कंपनी का नहीं रहा। 

Growth Hacking Strategy : इस स्ट्रेटेजी में सब से पहले दूसरी कंपनीयो के ग्राहकों को तोड़ के आपने साथ जोड़ा जाता है , उस के बाद ग्राहक को मार्कीट के हिसाब से बहुत ही सस्ते रेट में बहुत अच्छी सर्विस दी जाती है जिस के कारण ग्राहक ही उस कंपनी का प्रमोटर बन जाता है वोह वी अनजाने में ।
जैसे के Jio ने किया , पहले ग्राहकों को फ्री में सभी सर्विस दे कर अपने साथ जोड़ा , उस के बाद ग्राहक को इतने कम पैसो में बहुत अछी सर्विस दी जिस के चलते ग्राहक दूसरे लोगो को इस का इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित करने लगा , जिस से लोग एक दूसरे को बताए इस के बारे में और आप का ग्राहक ही अनजाने में आप का प्रमोटर बन जाए । 

Interesing facts about jio :
जियो के आने के बाद भारत सब से ज्यादा इन्टरनेट डेटा इस्तेमाल करने वाले टॉप 10 देशो की सूची में आ गया है , जो के पहले टॉप 150 देशो में वी शामिल नही था ।
जियो भारत का पहला ऐसा नेटवर्क है जिस की एक्टिवेशन सब से तेज़ है , जियो के सिम को डिजिटल तरीके से आधार से जोड़ कर 15 मिनट में सिम एक्टिवेट कर दिया जाता है।
जियो ने जो फाइबर ऑप्टिक केबल विशाई हैं असल में वोह केबल 5g में इस्तेमाल होती हैं।
जियो भारत में पहली ऐसी कंपनी है जिस ने टेलीकॉम इंडस्ट्री में इतना पैसा लगाया है , अगर बाकी सभी कंपनीयो के इन्वेस्टमेंट को जोड़ा जाए तो वी जियो उन से 3 गुना ज्यादा पैसा लगा चूका है।
भारत में जियो की स्पीड बाकि सभी ऑपरेटर्स से ज्यादा है । जियो की एक सेकंड की स्पीड 40 Tb है इस के बाद Airtel आता है जिस की स्पीड 3.8 TB पर सेकंड है ।
जियो भारत का पहला ऐसा नेटवर्क है जिस ने सिर्फ 2 महीनो में 5 करोड़ ग्राहकों को अपने साथ जोड़ लिए  , वही दूसरी तरफ Airtel को इतने ग्राहक जोड़ने के लिए 14 साल लगे थे।


No comments